शहीद पिंटू सिंहजी की भूमि तीर्थ समान, जन्मदिवस पर श्रद्धांजलि व स्मृति में पौधारोपण

डिग्री कालेज, पार्क, महत्वपूर्ण रिहायशी पथ व चौक-चौराहों का नाम कीर्ति चक्र से विभूषित शहीद के नाम पर करने की अपील।

शहीद के बंधुओं की स्थिति सुधारने हेतु मुख्यमंत्री के आश्वासन को पूरा करने की ग्रामीणों की मांग।

बेगूसराय  :  इतिहास के पन्नों में सुनहरे अक्षरों में दर्ज कराने वाले व मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित अमर शहीद पिंटू सिंहजी के जन्म दिवस पर उनके बगरस ध्यानचक्की आवास पर पुष्पांजलि व उनकी पावन स्मृति में पौधारोपण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया गया।

प्रधानाध्यापक व अभिनव पहल, बखरी के अध्यक्ष प्रमोद केशरी ने शहीद के आवासीय परिसर की मिट्टी को नमन करते हुए कहा कि शहीद की भूमि पर आना तीर्थ समान है। यहीं की मिट्टी में पले-बढ़े देश के महान रणबांकुरे पिंटू सिंह ने जाति-मजहब व क्षेत्रवाद से उपर उठकर समूचे देश की खातिर अपना सब कुछ न्यौछावर कर दिया।

बखरी जैसे क्षेत्र के लिए अतिगौरव दिलाने वाले का रिण प्रत्येक निवासी पर है, जो ग्रामीण क्षेत्रों में शिक्षा को बढ़ावा देकर व अन्य अपने-अपने क्षेत्रों में बेहतर कार्य कर ही चुका सकते हैं।

अभिनव पहल, बखरी के संस्थापक शिक्षक वसंत कुमार ने पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि अपने शौर्य व पराक्रम से भारत सरकार द्वारा कीर्ति चक्र से विभूषित होनेवाले व बखरी का नाम पूरे देश में गौरवान्वित करने वाले अमर शहीद पिंटू सिंहजी को अपने बखरी क्षेत्र में जो सम्मान मिलना चाहिए, उसमें आज भी काफ़ी कमी, उदासीनता व संवेदनहीनता क्षेत्र में झलक रही है।उनकी स्मृति को ताजा रखने के लिए बखरी के महत्वपूर्ण चौक-चौराहे व महत्वपूर्ण पथ का नामकरण शहीद पिंटू के नाम से करने तथा शौर्य चक्र विजेता शहीद के आदमकद प्रतिमा स्थापित करने व पार्क बनाए जाने की मांग करते हुए प्रस्तावित डिग्री काॅलेज का नामकरण भी शहीद पिंटू सिंहजी के नाम से करने की मांग की। इससे आने वाली पीढ़ी पिंटू सिंह की अनमोल शहादत से प्रेरणा लें सके व आमजन भी उनकी कृति को याद रख सकें।

वहीं स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता जितेंद्र जीतू ने शहीद के परिवार व गांव के विकास की मांग करते हुए कहा कि अपने परिवार जनों से ज्यादा देश की परवाह करने वाले पिंटू सिंह के परिवार व भाईयों का ख्याल रखना सरकार का स्वाभाविक फर्ज है। शहीद पिंटू सिंह के शहादत के बाद स्वयं मुख्यमंत्री,उपमुख्यमंत्री सहित कई मंत्री बड़े-बड़े हस्ती का आगमन ध्यानचक्की स्थित उनके निवास पर हुआ था,सबों ने हर परिस्थिति में मदद करने का आश्वासन दिए,लेकिन आज भी शहीद परिवार का छप्पर उजड़ा हुआ है,जबकि खुद मुख्यमंत्री जी अपने अधिकारियों को शहीद परिवार को आवास सहित अन्य सुविधाओं का लाभ देने व उनका ख्याल रखने का निर्देश दिया था।

उन्होंने शहीद परिवार को राशन कार्ड, पक्का इंदिरा आवास का लाभ देने के साथ-साथ गांव की कच्ची सड़क की मांग की। उन्होंने कहा कि शहीद के आम ग्रामीण चाहते हैं कि शहीद पिंटू सिंह के सभी भाई के नाम से सरकारी आवास मुहैय्या की जाय।शहीद के जन्मतिथि या पुण्य तिथि पर जब बाहरी आगंतुक आते हैं तो उनके परिवार की आर्थिक दुर्दशा एवं घर देखकर व्यथित और आश्चर्यचकित हो जाते हैं। नामचीन हस्तियों के साथ पहुंचने वाले सरकारी अमले व अधिकारियों की इस दुर्दशा पर जारी चुप्पी हैरतअंगेज है जो अपनी सुधि लेने की बाट जोह रहे उनके परिजनों के लिए काफी पीड़ादायक है।

उनकी मिट्टी को नमन करते हुए अभिषेक पोद्दार, विपिन कुमार, अभिषेक राजन समेत उनके बड़े भाई अमलेश सिंह व मिथिलेश सिंह समेत अन्य परिजनों ने शहीद की पावन स्मृति में कई पौधे लगाए।
वहीं ई-संवाद के माध्यम से प्रधानाध्यापक प्रेम किशन मन्नू, मारवाड़ी युवा मंच अध्यक्ष रंधीर तुलस्यान, शिक्षक धीरज सिंह, कृष्ण मोहन कुमार, जितेन्द्र जिज्ञासु,रुपेश कुमार, दीपक रजक, संतोष सावन, कृष्ण कुमार, द्रवेश्वर सहनी, कौशल किशोर क्रांति, मनीष गुप्ता आदि ने भी अपनी श्रद्धा निवेदित की।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

दो पक्षों में झगड़ा बंद कराने गई पुलिस पर उपद्रवियों ने बोला हमला

🔊 Listen to this समस्तीपुर 19 सितम्बर 2021 रिपोर्ट : सुबोध कुमार पुरजन । समस्तीपुर(बिथान) …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *