Breaking News

बेगुसराय  : श्री विश्व बन्धु पुस्तकालय बखरी के वार्षिकोत्सव पर कवि सम्मेलन का आयोजन – मिथिला सिटी न्यूज़ 

बेगुसराय  28 जुलाई 2019

रिपोर्ट  : राजेश झा ।

 जब आ नहीं जाते 15 लाख खाते में, हम मोदी जी को यूं ही जिताते रहेंगे

हास्य कवि सम्मेलन में शंभू शिखर को सुनने उमड़ी भीड़

 

बेगूसराय । राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की जन्मभूमि बेगूसराय शनिवार की रात राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय हास्य कवियों के रस भरे छंदों से ओत-प्रोत होता रहा। श्री विश्व बंधु पुस्तकालय बखरी के 63 वें वर्षगांठ पर आयोजित विराट हास्य कवि सम्मेलन सह सम्मान समारोह में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त कवि शंभू शिखर, राष्ट्रीय स्तर पर चर्चित वीर रस के कवि मनोज चौहान, श्रृंगार रस के अनामिका प्रियदर्शनी, कुमारी ज्योतिसना, गजल के शम्स तववेज, ट्विंकल कर्मकार एवं मुंबई से आए सौरव सिंह ने आर्य कुमार विक्रमादित्य के मंच संचालन में हास्य के एक से एक छंद से देर रात तक बहते रसधार में दर्शक गोते लगाते रहे।

सुप्रसिद्ध हास्य कवि शंभू शिखर ने मैथिली के सहज भाव की चर्चा करते हुए ‘मोन में रखने का काशी छी-हम सब मिथिला वासी छी’ के साथ कार्यक्रम को गति दी। उन्होंने अपनी पहचान नहीं भूलने, पुस्तक के सच्चा मित्र होने से लेकर पुलिसिया व्यवस्था, चूहा के शराब पीने, अतीत हमारा और भविष्य, प्रियंका गांधी पर प्रहार, कन्हैया को बेगूसराय से मिली आजादी के साथ साथ बिहार की गाथा गान कर गुदगुदाया। शंभू शिखर ‘जब तक आ नहीं जाते 15 लाख खाते में हम मोदी जी को यूं ही जिताते रहेंगे’ का छंद छेड़ा तो लोग देर तक झूमते रहे।

वही मैनपुरी उत्तर प्रदेश से आए कवि मनोज चौहान ने वीररस से राष्ट्रकवि दिनकर जी की धरती के ओज, सीआरपीएफ के शहीद इंस्पेक्टर पिंटू सिंह की जांबाज जी और देश भक्ति से ओतप्रोत कविता के साथ-साथ सेना के शौर्य पर सवाल उठाने को लेकर अरविंद केजरीवाल पर जोरदार प्रहार किया। वंदे मातरम् नहीं कहने वालों की तुलना कुकुरमुत्ता से करते हुए उन्होंने अपनी कविता के माध्यम से महाराणा प्रताप की शौर्य गाथा सुनाई तथा कहा कि यहां अकबर की कथा गाई और महाराणा प्रताप की गाथा छुपाई जाती है। जबकि प्रशासनिक सेवा के अधिकारी सुदामा प्रसाद एवं अमरनाथ केशरी ने छात्र-छात्राओं का मोटिवेशन करते हुए अभिभावकों से बच्चों पर अपनी इच्छा नहीं थोपने की अपील की। डॉ रमण झा के संयोजन में आयोजित हास्य कवि सम्मेलन से पहले आगत अतिथियों ने वार्षिकोत्सव का शुभारंभ तथा पुस्तकालय द्वारा आयोजित विभिन्न प्रतियोगिता में सफल प्रतिभागियों के साथ मैट्रिक परीक्षा में अनुमंडल टॉपर नेहा कुमारी को सम्मानित किया।

कार्यक्रम पूरी तरह से सीआरपीएफ के शहीद इंस्पेक्टर पिंटू सिंह को समर्पित रहा तथा इस दौरान पुस्तकालय परिवार ने जहां शहीद पिंटू की विधवा अंजू सिंह को आजीवन सदस्यता दी। वहीं, सामाजिक कार्यकर्ता रजनीकांत पाठक ने शहीद की पुत्री को बेहतर शिक्षा के उद्देश्य एक लाख का चेक सौंपा। रजनीकांत पाठक ने बताया कि कहा कि उत्तरी कश्मीर के बावगुंड, हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में बखरी थाना क्षेत्र के बगरस ध्यान चक्की निवासी सीआरपीएफ इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह के शहादत के कारण शकरपुरा में आयोजित 58वां राम जन्मोत्सव सांस्कृतिक आयोजन को स्थगित कर सहयोग की घोषणा की गई थी।

इस विशाल कार्यक्रम का संचालन पुस्तकालय के अध्यक्ष जयदेव सान्याल एवं कोमल आर्य ने किया । मौके पर जीएसटी व कस्टम के कमिश्नर अमरनाथ केसरी, जितेंद्र ज्योति, शैलेश महाजन, रजनीकांत पाठक, संजय सिंह, मणिशंकर सिंह आदि को अपने क्षेत्रों में बेहतर काम करने के लिए पुस्तकालय परिवार के द्वारा सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में कवि,साहित्यकार मुकेश केसरी,रामनन्दन अज्ञानी,ओम प्रकाश गुप्ता,बसन्त कुमार,कौशल किशोर क्रांति सहित सैकड़ो प्रबुद्ध नागरिक,महिलाएं,छात्र व छात्राएं मौजूद थे। इस कार्यक्रम के आयोजन में डॉक्टर रमण झा, डॉ. विशाल केसरी, वार्ड पार्षद नीरज नवीन, कोमल आर्य, जयशंकर जायसवाल, सीताराम केसरी, अनुभव आनंद, समीर श्रवण आदि का योगदान सराहनीय रहा।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

वैशाली  : श्रम संसाधन विभाग द्वारा श्रमिकों के लिए चलाई जा रही योजनाओं के तहत लाभुकों को किया गया आच्छादित – मिथिला सिटी न्यूज़ 

🔊 Listen to this वैशाली 16 अगस्त 2019 रिपोर्ट : नसीम रब्बानी। बिहार वैशाली जिला …